कीकली ब्यूरो, 4 मार्च, 2020

किशोरयो  की झिझक और स्वास्थ्य जागरूकता को ध्यान में रखते हुए रोटरी सोलन ने यह पहल की है। ऐसी पहली मशीन को यहां के राजकीय पाठशाला गुगाघाट में लगाई गई। इस मशीन से बालिकाओं को स्कूल प्रांगण में ही सेनेटरी नैपकिन आसानी से  मुफ्त मे उपलब्ध हो जाएंगे। इसके तहत सोलन में अब छात्राओं को सैनिटरी नैपकिन लेने के लिए केमिस्ट के पास नहीं जाना पड़ेगा।

रोटरी सोलन के  प्रधान मनीष तोमर ने बताया की विद्यालय में अध्ययनरत छात्राएं जरूरत होने पर वेंडिंग मशीन से सेनेटरी नैपकिन निकाल सकेंगी। इसके लिए छात्राओं को किसी तरह का शुल्क चुकाने की जरूरत नहीं होगी। बालिकाओं के अच्छे स्वास्थ्य और निजी साफ-सफाई की ओर विशेष ध्यान देने की पहल करते हुए रोटरी सोलन ने यह निर्णय लिया है। और आने वाले समय मे अन्य स्कूलो मे यह नैपकिन वेंडिंग मशीन लगाई जाएगी।

रोटरी सोलन कि  प्रोजेक्ट चेयरमैन रेनू कोरियन ने बताया कि पीरियड के संबंध में छात्राएं खुलकर बात करने में संकोच करती हैं। बाजार से खरीदने में भी कई छात्राएं हिचकिचाहट महसूस करती हैं। छात्राओं को किसी तरह की दिक्कत न हो, जरूरत पड़ने पर तत्काल सेनेटरी नैपकिन उपलब्ध हो सके, इसके लिए रोटरी  ने यह नयी पहल शुरू की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here