कीकली ब्यूरो, 7 अक्टूबर, 2019, शिमला

उपायुक्त जिला शिमला अमित कश्यप ने आज 33 वीं तीन दिवसीय राज्य स्तरीय अंडर 13 लड़के एवं लड़कियों की बैडमिंटन प्रतियोगिता के समापन अवसर पर इंदिरा गांधी राज्य खेल परिसर में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए। कश्यप ने अपने संबोधन में कहा कि राज्य के विभिन्न जिलों से आए बच्चों के अंदर प्रतिभा और योग्यता बहुत ज्यादा है, इस प्रकार की खेलकूद गतिविधियों न सिर्फ प्रतिस्पर्धा की भावना उत्पन्न होती है बल्कि अनुशासन का भाव भी उत्पन्न होता है जो भविष्य निर्माण के लिए अत्यधिक आवश्यक है।

उन्होंने कहा कि प्रतियोगिता में हार व जीत सिक्के के दो पहलू हैं जीतने वाले को और अधिक मेहनत कर आगे बढ़ना है वह हारे हुए खिलाड़ी अगली बार जीत के प्रति दृढ़ निश्चय से तैयारी करें। उन्होंने कहा कि बच्चे कभी भी ऐसा कदम ना उठाएं जिससे आपके माता-पिता को निराश होना पड़े। उन्होंने कहा कि इस प्रतियोगिता में विजेता एवं उपविजेता बच्चे 13 नवंबर से भागलपुर पटना में शुरू होने वाली राष्ट्रीय स्तर की बैडमिंटन प्रतियोगिता में भाग लेंगे।

इस अवसर पर उपायुक्त ने विजेता बच्चों को सम्मानित किया व विजेता एवं उपविजेता बच्चों को राज्य बैडमिंटन समिति द्वारा निर्धारित ₹51000 की राशि प्रदान की गई।

इस अवसर पर राज्य बैडमिंटन समिति के सचिव राजेंद्र शर्मा, राज्य बैडमिंटन समिति के उपाध्यक्ष बलवंत जोहटा, विजय ठाकुर, चंद्रशेखर, बी.ड़ी. मोदगिल, ओपी शर्मा, जिला बैडमिंटन समिति के सचिव विजय धोहटा, कार्यकारी सदस्य ज्ञान ठाकुर, प्रदीप शर्मा, साईं बैडमिंटन कोच नेहा सूद, विभिन्न जिलों से मैनेजर, कोच, अभिभावक व बच्चे शामिल थे।

*विजेता एवं उपविजेता बच्चे।*

लड़कों की एकल स्पर्धा में प्रथम स्थान करण शर्मा (कांगड़ा) व द्वितीय स्थान देवांश राणा (हमीरपुर) ने हासिल किया, वहीं लड़कियों की एकल स्पर्धा में प्रथम स्थान यक्षिता शर्मा (शिमला) व द्वितीय स्थान प्रज्ञा बर्मा (शिमला) ने हासिल किया।

वहीं लड़कियों की डबल्स प्रतियोगिता में प्रज्ञा वर्मा व अक्षिता शर्मा (शिमला) ने प्रथम स्थान एवं भारती शर्मा व दिव्यानी थापा(शिमला) ने द्वितीय स्थान हासिल किया।

वही लड़कों की डबल्स प्रतियोगिता में दक्षेश बरनेयाल व करण शर्मा (कांगड़ा) ने प्रथम स्थान एवं गौरव व मनीष (उना) ने द्वितीय स्थान हासिल किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here