कीकली ब्यूरो, 4 सितम्बर, 2019, शिमला

भारतीय संस्कृति के गौरवमयी वैभव की पूर्नावृति संस्कार व नैतिक भावयुक्त शिक्षा प्रदान करने से ही संभव है, जिसमें सैप्लिंग स्कूल शिमला द्वारा ध्येयपूर्वक कार्य किया जा रहा है। परिवहन, वन व युवा सेवा एवं खेल मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने लक्कड़बाजार स्थित सैप्लिंग स्कूल के वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह की अध्यक्षता करते हुए यह विचार व्यक्त किए ।

उन्होंने नन्हें बच्चों द्वारा प्रस्तुत योग, महामंत्र तथा अन्य कार्यक्रमों की सराहना करते हुए बच्चों में ऐसे संस्कार जागृत करने के लिए स्कूल प्रबंधन की प्रशंसा की। उन्होंने कार्यक्रम में वृक्ष बचाओं, वृक्ष लगाओं प्रस्तुति के तहत मंच पर गमले में पौधा रोपित किया। उन्होंने कहा कि यह कार्य हम प्रदेश के प्रत्येक स्कूल में आरम्भ करेंगे। मंत्री अथवा गणमान्य व्यक्ति स्कूल के बाहर पौधा रोपित करने के साथ-साथ मंच पर भी पौधा रोपित करेगें ताकि प्रदेश में हरित आवरण को बढ़ाने के संदेश को और अधिक विस्तार प्रदान किया जा सके ।

उन्होंने कहा कि वाहन नियमों और कानूनों का पालन कर प्रदेश को दुर्घटनामुक्त व चालानमुक्त राज्य बनाने के लिए सभी अपना भरपूर सहयोग दें। उन्होंने कहा कि नियम व कानून जागरूकता प्रदान करने के लिए होते हैं, जिनका पालन करना सबकी जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के फिट इंडिया मूमेंट के तहत हम सब स्वस्थ भारत व मजबूत भारत की भावना के लिए प्रतिदिन व्यायाम व योग करें तथा अपने को खेलों की तरफ आकर्षित कर अपने शरीर को स्वस्थ एवं तंदरूस्त रखें।

उन्होंने आज स्कूल के बच्चों जिनमें सैजल, शिखर, सानवी भल्ला, इनाया गुप्ता, नंदिका, आर्यन नेहटा, आराध्य, अदविका, ऐलिना, आराध्य रावत, रित डोगरा, अर्नव कौंडल, वेदांत ठाकुर, दिव्यांश, रेयांश, अनवी तिवारी, अधिराज, युवराज, चारमी, अर्नव ठाकुर, औजस्वीनी, आदविक सिंह, मानविक, ऐंजल शर्मा व अनवी जाल्टा को विभिन्न गतिविधियों के तहत सम्मानित किया।

उन्होंने आर्यन नेहटा को प्राईड ऑफ़ सैप्लिंग, ऐंजल शर्मा को स्कूल में पूर्ण उपस्थिति, सैजल को श्रेष्ठ टिफिन, युवराज शर्मा को फैंसी ड्रैस में उत्कृष्ट अभिनय के लिए पुरस्कृत किया। विद्यालय की प्रधानाचार्य कुसुम कुठियाला ने कहा कि नन्हें बच्चों का यह विद्यालय, बच्चों में देश प्रेम के साथ-साथ संस्कारयुक्त शिक्षा प्रदान करना अपना ध्येय समझता है । उन्होंने कहा विद्यालय द्वारा विभिन्न कार्यक्रमों, धार्मिक व राष्ट्रीय त्यौहारों का आयोजन कर बच्चों की प्रतिभा को उजागर करने के साथ-साथ उनमें आत्मविश्वास की भावना को पैदा करने का प्रयास किया जाता है।

इस अवसर पर राष्ट्र सेविका समिति की प्रांत मुख्य संचालिका राजकुमारी सूद, कल्याणी पहाड़ी गाय अनुसंधान एवं विकास केन्द्र खनलग, तहसील अर्की, जिला सोलन के अध्यक्ष रोहिताश चन्द्र भी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here