कीकली रिपोर्टर, 7 जून, 2019, शिमला

बाल आश्रम के विशेष बच्चों के लिए सामाजिक संस्था किकली के संयोजन से कार्यक्रम का भी आयोजन किया जाएगा

ओजस सेंटर फार आर्ट एंड रीडरशिप डवलपमैंट (ओकार्ड) पुस्तक संस्कृति का प्रचार प्रसार व संवर्द्धन करने के उद्देश्य से शिमला के ऐतिहासिक गेयटी थिएटर में अंतर्राष्ट्रीय पुस्तक मेले का आयोजन करने जा रहा है। यह मेला आठ जून से 16 जून तक आयोजित किया जाएगा। यह ओकार्ड का पांचवा मेला है। निदेशक भाषा संस्कृति विभाग कुमुद सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि पुस्तक मेले के माध्यम से अपनी संस्कृति को जीवित रखने की यह मुहिम है जिसमें देश-विदेश के लोग भाग लेंगे। रिज मैदान से पुरानी राहों से थीम के तहत पुरानी दुकानों व रेस्टोरेंट आदि को भी जोड़ा जाएगा और पहाड़ी चित्रकला मिनिएचर व लुप्त होती कला को मंच प्रदान किया जाएगा । उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि हर वर्ष की तरह इस वर्ष ओकार्ड सृजन सम्मान प्रसिद्ध लेखिका प्रो मीनाक्षी एफ पॉल को दिया जाएगा।

निदेशक राकेश गुप्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि यह मेला भाषा एवं संस्कृति विभाग और हिमाचल कला भाषा अकादमी के संयोजन से आयोजित किया जाएगा। अपनी कला संस्ककृति के संरक्षण के उद्देश्य से मनाए जाने वाले इस मेले में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इस कार्यक्रम में महात्मा गांधी पर विशेष कार्यक्रम जैसे चित्रकला प्रदर्शनी, संगोष्ठी आदि कार्यक्रम आयोजित होंगे साथ ही हेरिटेज वाक, लोक संगीत व नृत्य में लूडी, करयाला, बांठड़ा पर

विशेष कार्यक्रम आयोजित होंगे। पुस्तक मेले के माध्यम से महिला साहित्यकार सम्मेलन, युवा चित्रकारों की चित्रकला प्रदर्शनी भी आयोजित किए जाएंगे साथ ही पहली बार ओकार्ड द्वारा सर्वोदय बाल आश्रम के विशेष बच्चों के लिए सामाजिक संस्था किकली के संयोजन से कार्यक्रम का भी आयोजन किया जाएगा। इस मेले में मंगोलिया और रिपब्लिक ऑफ बोसनिया एंड हरजेगोविना विशेष अथिति के तौर पर शामिल होंगे और देश भर से 25 प्रकाशक भी शामिल होंगे।

इसके अतिरिक्त 13 जून को रोटरी टाउन हाल में वाणी प्रकाशन व कैम्ब्रिज स्कालर्ज लंदन के संयुक्त लेखक एस आर हरनोट की दो पुस्तकों ‘कीलें’ व अंग्रेजी में अनुवादित’ कैट्स टॉक’ का लोकार्पण भी किया जाएगा I

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here