कुलदीप वर्मा, कीकली रिपोर्टर, 5 सितम्बर, 2019, शिमला

शिक्षक दिवस के अवसर पर शिमला के प्रतिष्ठित शैलेडे स्कूल में सेलिब्रेशन केक काट कर गुरु शिष्यों ने मंच को साझा करते हुए एक साथ डांस कर इस स्पेशल डे को यादगार बना डाला । विद्यार्थियों ने भी अपनी शिक्षिकाओं का सम्मान करते हुए उन्हें बधाई और शुभकामनाओं से लबरेज गिफ्ट भेंट किए ।

वर्ष भर इंतजार के बाद आए इस महत्वपूर्ण अवसर पर खुशी के लम्हों को यादगार बनाने के लिए विद्यार्थियों ने भी कोई कसर बाकी न रखी । विभिन्न कक्षाओं के छात्र छात्राओं ने मंच पर गूँजते गीतों पर अपनी नृत्य प्रस्तुतियाँ पेश कर अध्यापिकाओं के चेहरों पर मुस्कान बिखेर डाली । विद्यार्थियों द्वारा भांगड़ा, नाटी सहित समूह और एकल नृत्यों की प्रस्तुतियों पर सभागार में गूँजती तालियों के बीच प्रत्येक मन प्रफ़्फुलित हो उठा ।

इस दौरान स्कूल प्रधानाचार्या आशिमा शर्मा ने सभागार मे मौजूद विद्यार्थियों और अध्यापक वर्ग को संबोधित करते हुए इस विशेष दिवस को यादगार बनाने के लिए किए गए प्रयासों को सराहा व विद्यार्थियों द्वारा प्रस्तुत नाटी व भांगड़ा प्रस्तुतियों की तारीफ की । इस दौरान उन्होंने कहा कि अपने करियर को एक प्रोफ़ेसर के रूप में आरंभ करने वाले व आजाद भारत के पहले उपराष्ट्रपति व दूसरे राष्ट्रपति रह चुके डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिवस को उनकी याद में शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है । प्रधानाचार्या ने प्रत्येक शिक्षक को डॉ राधाकृष्णन के पदचिन्हों पर अग्रसर रहकर भारत के भविष्य निर्माण में अपना सर्वस्व न्योछावर करने के लिए तत्पर रहने को आवश्यक करार दिया ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here