कीकली ब्यूरो, 5 नवंबर, 2019, शिमला

राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला, संजौली, इकाई ने सात दिवसीय शिविर का आयोजन किया जिसमें स्वयंसेवियों ने बढ़चढ़ कर भाग लिया । 30 अक्तूबर से 5 नवम्बर तक आयोजित किए गए इस शिविर का शुभारंभ स्कूल प्रधानाचार्य के. सी. शर्मा द्वारा किया गया। इस दौरान स्कूल प्रांगण में एकत्रित स्वयंसेवियों को संबोधित करते हुए प्रधानाचार्य ने स्वच्छता का सुंदर संदेश दिया जिससे सीख लेते हुए स्वयंसेवियों ने सर्वप्रथम स्कूल प्रांगण की सफाई की ।

स्वयंसेवियों ने पूरे सप्ताह की समयसारणी बना कर प्रात: 5 बजे जागरण के आयोजन के साथ एक घंटे के अंतराल पर प्रभात-फेरी भजन, योग और आवश्यक प्रोजेक्ट कार्य निभाए । दोपहर में जहां वैदिक मंत्र उचारण विशेष रहा तो वहीं सांयकाल में पढ़ाई करने के उपरांत आरती के बाद सांस्कृतिक संध्या के आयोजन के साथ एक बार फिर पढ़ाई, नियमित तौर पर साप्ताहिक दिनचर्या का हिस्सा रहीं । वहीं तीन ग्रुप बनाकर स्वयं सेवियों ने 30 व 31 अक्तूबर को एकता दिवस के उपलक्ष पर ‘रन फॉर यूनिटी’ में अपनी विशेष उपस्थिती दर्ज की ।

31 अक्तूबर को एकता दिवस के अवसर पर आई. टी. बी. पी. जवानों द्वारा एकता व ईमानदारी पर बल देकर स्वयंसेवियों का प्रेरणा पथ प्रशस्त कर एकता की शपथ दिलाई गई ।

साप्ताहिक शिविर की विभिन्न गतिविधियों के इस क्रम में स्वयंसेवियों ने अगली प्रात: फॉरेस्ट रोड़ पर सफाई अभियान छेड़ा। इस दौरान पार्षद डॉ. किमी सूद ने मुख्यातिथि के रूप में शिरकत करते हुए स्वयंसेवियों का हौंसला बढ़ाया । इसी कड़ी में राष्ट्रपति से दो बार सम्मान हासिल कर चुके डॉ. अनुराग विजयवर्गीय ने आयुर्वेद विशेषज्ञ के रूप में बौद्धिक सत्र में स्वयंसेवियों को विभिन्न रोगों व उनके उपचारों से अवगत करवाया ।

अगले दिन स्वयंसेवियों ने चयनित चलौन्ठी गाँव का रूख कर साफ सफाई को अंजाम दिया इस दौरान समाजसेवी सर्बजीत सिंह बॉबी बौद्धिक सत्र के दौरान विशेष तौर पर उपस्थित रहे ।

3 नवंबर को स्वयंसेवियों द्वारा संजौली स्थित ढिंगू माता मंदिर परिसर में सफाई अभियान छेड़ा गया व माँ का आशीर्वाद ग्रहण किया। इस दिन बौद्धिक सत्र में अनुराधा व निधि ने स्वयंसेवियों के साथ सफाई अभियान में भाग लिया । 4 नवंबर को स्वयंसेवियों ने जाखू रोड़ पर फैले कूड़े कचरे को साफ किया व करीब 200 काँच की बोतलें व एक बोरी प्लास्टिक कचरा एकत्र कर प्रसिद्ध देवस्थल को कचरा मुक्त कर बजरंग बली से बल, बुद्धि व विद्या का आशीर्वाद पाया । इस दौरान बौद्धिक सत्र में सेवानिवृत आई. ए. एस. अधिकारी के. आर. भारती ने अपने जीवन का बहुमूल्य अनुभव साझा करते हुए स्वयंसेवियों का मार्गदर्शन किया । इस दौरान स्वयंसेवियों ने मानसून में रोपे गए पौधों का भी निरीक्षण किया ।

कार्यक्रम अधिकारी अजय वशिष्ठ व मुदिता भारद्वाज के मार्गदर्शन में आयोजित इस शिविर में स्वयंसेवियों ने बहुत कुछ नया ज्ञान हासिल किया व एक नए आत्मविश्वास, नेतृत्व क्षमता और प्रबंधन के गुणों को आत्मसात करने में सफल रहे । पर्यावरण पर आधारित इस सफल कैंप में प्लास्टिक को पूरी तरह दरकिनार किया जाना भी एक विशेष उपलब्धि रही। विद्यालय के अध्यापकगणों द्वारा दिया गया सहयोग हर पल उत्साह को दुगना करने में कारगर सिद्ध हुआ । स्कूल प्रबंधन  समिति अध्यक्ष प्रकाश शांडिल व प्राध्यापकों की उपस्थिती ने इस साप्ताहिक शिविर को सफल बनाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here