कीकली रिपोर्टर, 9 अगस्त, 2019, शिमला

बच्चों में संस्कार भरने वाले दादा-दादी और नाना-नानी हर घर की बुनियाद होते हैं। शैमरॉक रोजेंस स्कूल द्वारा वल्र्ड ग्रैंड पैरेंट्स डे समारोह का भव्य आयोजन किया गया। इस अवसर पर बच्चों के दादा-दादी को स्कूल में बुलाया गया था। कार्यक्रम में नौनीहालों व उनके बजुर्गो में विभिन्न प्रतियोगिताएं करवाई गई। बच्चों के ग्रैंड पेरेंट्स सहित बच्चे भी प्रफ्फुलित नजर आ रहे थे।

अपनी तरह के इस अनूठे आयोजन ने बुजुर्गों ने विभिन्न रोचक प्रतियोगिताओं में जोरदार भागीदारी कर अपने बचपन को साकार किया। बच्चों के नाना-नानी और दादा-दादी को एकल गायन, वाद्ययंत्र, ड्राइंग एवं पेंटिंग, मेंहदी, पॉट डेकोरेशन आदि विभिन्न प्रतियोगिताओं में देखना अपने आप में एक रोचक अहसास था। इन बुजुर्गों ने भी अपनी प्रतिभा दिखाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। समारोह में छोटे बच्चों के लिए कई तरह के आयोजन किए गए थे। कुल मिलाकर इस अनूठे आयोजन ने बच्चों और बुजुर्गों सभी को एक कर दिया।

इस मौके पर स्कूल की प्रधानाचार्य प्रीति चुट्टानी ने कहा कि बच्चों व उनके दादा दादी का रिश्ता तो बड़ा अनमोल होता है। उन्होंनें बताया कि स्कूल में इस तरह के कार्यक्रम को करवाने के पीछे उनका उद्देश्य नौनिहालों व उनके दादा दादी में प्यार के अनमोल रिश्ते को बल देना था। उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम के आयोजन के पीछे बच्चों के अंदर बड़ों के प्रति आदर भाव और सत्कार पैदा करना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here